दाऊद पर बनाना थी फिल्म, पर हसीना की कहानी ने मन बदला

दाऊद पर बनाना थी फिल्म, पर हसीना की कहानी ने मन बदला

पराग छापेकर। फिल्म ‘हसीना पारकर’ एक बायोपिक है जिसमें दाऊद इब्राहिम की बहन के जीवन को दर्शाया गया है। अपूर्व ने हसीना से मुलाकात के बारे में दिलचस्प बातें साझा की।

haseena-film

अपूर्व कहते हैं कि, ”मुझे दाऊद पर फिल्म बनाने को मिली थी। लेकिन मुझे लगा कि दाऊद पर कई फिल्में बन चुकी हैं। और फिर हसीना पारकर से मुलाकात के बाद लगा कि उनकी कहानी भी काफी दिलचस्प है।” अपूर्व आगे बताते हैं, ”फिल्म बनाने से पहले हसीना पारकर से परमिशन ली गई थी। फिल्म में असली नामों का ही इस्तेमाल किया गया है। इसके लिए सबसे एनओसी ली है। फिल्म बनाने के लिए फैमिली के साथ मीटिंग की थी। कजि़न के घर पर बुलाया गया था मुझे। मेरी हसीना से मीटिंग 7 बजे की थी लेकिन मैं और चिंतन 9 बजे पहुंचे। वो घर पर थीं। हम दोनों जंजीर की शूटिंग से व्यस्त थे और काफी थक गए थे इस कारण मैं उनका इंतजार करते-करते सो गया था। और हसीना पारकर 11 बजे बाहर आईं। इस बात से यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि बॉस कौन है।”

डायरेक्टर अपूर्व आगे कहते हैं ”हसीना बहुत कम बोलती थी। जब भाई और फैमिली के बारे में बात शुरू हुई तो एक समय बाद मुझे लगा कि हसीना की खुदकी जिंदगी काफी इंट्रेस्टिंग है। इसलिए मैंने उनसे उन पर ही फिल्म बनाने का कहा। लेकिन उन्होंने मना कर दिया कि यह नहीं हो सकता। फिर मैंने उनके कजिन का नंबर लिया और उनसे पूछता रहा। 10 दिन बाद एक बार फिर मीटिंग हुई तो उन्होंने हां कर दी। मैंने एक बात उनको कह दी थी कि, फिल्म बनाउंगा तो नरेशन पहले नहीं दूंगा। स्क्रिप्ट तैयार होगी तो आपको साइन करना होगी। चूंकि, मैं बायोपिक बना रहा हूं न कि शोरील। इसलिए कैरेक्टर कैसा है बाहर के लोगों से भी पूछना होगा। इस पर उन्होंने हामी भरी और कहा हां आप पूछ सकते हैं।”

आपको बता दें कि, फिल्म हसीना पारकर 22 सितंबर को रिलीज़ हो रही है जिसमें श्रद्धा कपूर के अलावा सिध्दांत कपूर और अंकुर भाटिया की भी अहम भूमिका है।

bollywoodfastnews

My Name Is Pappu Bandod

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *