बॉलिवुड में पार्टनरशिप करने आए थे हार्वी वाइंस्टीन

बॉलिवुड में पार्टनरशिप करने आए थे हार्वी वाइंस्टीन

हॉलिवुड निर्माता हार्वी वाइंस्टीन ने बॉलिवुड के फिल्म निर्माताओं के साथ संभावित पार्टनरशिप के लिए साल 2003 में मुंबई का ‘गुप्त रूप’ से दौरा किया था। वाइंस्टीन पर यौन दुराचार के कई आरोप हैं। एक जाने-माने सफल फिल्म निर्माता ने वाइंस्टीन के साथ अपनी बैठक को याद करते हुए बताया, ‘वह साल 2003 में बॉलिवुड के फिल्मकारों के साथ संभावित पार्टनरशिप के लिए गुप्त रूप से मुंबई आए थे। मैं उनसे जेडब्ल्यू मैरियट में दोपहर के भोजन पर मिलने गया था। इस दौरान वह चपर-चपर आवाज निकालने और लार टपकाते हुए एक प्लेट पास्ता खाते रहे। उस दौरान उन्होंने मुझे या मेरी महिला सहयोगी को एक कप कॉफी के लिए भी नहीं पूछा था जबकि वैश्विक मनोरंजन कारोबार में वह एक बड़ा नाम थे। वाकई निंदनीय।’ फिल्मकार ने कहा, ‘मैं यह कसम खाते हुए वहां से निकल आया कि चाहे मुझे फुटपाथ पर पाव-भाजी ही बेचना पड़े लेकिन इस आदमी के साथ कभी काम नहीं करूंगा।’ वाइंस्टीन के मुंबई में कई दोस्त हैं। कहा जाता है कि उनमें फिल्मकार शेखर कपूर और अभिनेता-निर्माता उदय चोपड़ा भी शामिल हैं। वास्तव में साल 2014 में यश चोपड़ा के छोटे बेटे ने वाइंस्टीन के साथ ‘ग्रेस ऑफ मोनाको’ नामक बायॉपिक के लिए पार्टनरशिप की थी। इस फिल्म में निकोल किडमैन ने अभिनय किया था। अन्य अभिनेताओं, जिन्होंने हाल के सालों में हॉलिवुड और पश्चिम में नाम कमाया है, उनका किसी न किसी तरह से वाइंस्टीन के साथ मेलजोल रहा है।

एक अभिनेता जिनकी साफ-सुथरी, युवा, फैमिली इमेज है और उन्होंने भारत और विदेशों में सफलता हासिल की है, उन्होंने कहा, ‘आप अमेरिकी फिल्म इंडस्ट्री में काम करें और उनसे पाला न पड़े, ऐसा हो नहीं सकता। इसलिए, हां मैं उनसे कई बार मिला हूं लेकिन मेरा नाम उनके साथ न जोड़ें।’

bollywoodfastnews

My Name Is Pappu Bandod

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *